डेरे में इस चीज  का बैंक खोलना चाहता था गुरमीत राम रहीम, आना था इतने करोड़ का  खर्च

147

गुरमीत राम रहीम डेरा सच्‍चा सौदा में हड्डियों का बैंक खोलना चाहता था। इस पर काम भी शुरू हो गया था़। इसे अवैध रूप से शुरू किया जा रहा था। इसी तरह डेरे में स्किन बैंक भी चल रहा था।

 डेरा सच्चा सौदा गुरमीत डेरे में हड्डियों का बैंक बनाना चाहता था। इस पर 10 करोड़ रुपये की लागत आनी थी। डेरा परिसर में शाह सतनाम सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के पास ही इसे बनाया जाना था।  इस साल जनवरी में ही हड्डियों के बैैंक का काम शुरू हो गया था। कुछ मशीनें भी खरीद ली गई थीं। स्किन बैंक की तरह हड्डियों का यह बैंक भी अवैध है। वह डेरे मेें स्किन बैंक भी चला रहा था।

हड्डियों के बैंक के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से किसी भी तरह की मंजूरी डेरे को प्राप्त नहीं है। स्किन बैैंक के लिए भी कोई मंजूरी नहीं ली गई थी। सर्च आॅपरेशन के दौरान डेरे में मिला स्किन बैंक अवैध पाया गया है। स्किन बैंक दो वर्ष पहले ही शुरू हुआ था

अब तक देश में किसी भी सरकारी अस्पताल में यह सुविधा मौजूद नहीं है। बगैर  रजिस्ट्रेशन इस बैंक को शुरू कर दिया गया और डॉक्टरों की मदद से लोगों से स्किन दान में लेनी भी शुरू कर दी। दान में मिली स्किन से कितने लोगों को फायदा पहुंचा, यह रिकॉर्ड में उपलब्ध नहीं है

बाबा के अस्पताल में गर्भपात के लिए भरवाए जाने वाले फॉर्म से संबंधित दस्तावेज भी पूरे नहीं हैं। इन कागजों में लापरवाही बरतने वाले के खिलाफ स्वास्थ्य विभाग सख्त कार्रवाई करता है तो उसका क्लीनिक सील कर देता है।

दो महीने पहले जुलाई में सिरसा स्थित डेरे में एक बड़ा समारोह रखा गया था जिसमें राम रहीम ने सार्वजनिक रूप से हड्डियों का बैंक बनाए जाने की घोषणा भी की थी। इसी दौरान कुछ एनजीओ ने मिलकर बैंक के लिए 25 और 50 लाख रुपये बतौर दान में भी दिए थे। गुरमीत ने खुद भी एमएसजी फिल्म से हुई कमाई में से 25 लाख इस बैंक के लिए दान किए थे।