जहां पूरा देश बकरीद मना रहा था वहीं इस मुसलमान ने बकरीद को मौके पर कर दिया ऐसा काम कि पूरी मुस्लिम कौम देखती रह गयी

648

भारत में मुस्लिम असुरक्षित महसूस करते हुए भी बड़े ही धूम-धाम से बकरीद मना रहे हैं और जगह-जगह बकरे की कुर्बानी दे रहे हैं. ऐसे में आपको बता दें एक खबर आई है जिसे पढ़ने के बाद हर किसी को उस एक मुसलमान से प्यार हो जाएगा. बकरीद के चलते पूरे देश में पुलिस प्रशासन सख्त है.

source

दरअसल एक अख़बार में छपी खबर के अनुसार  भागलपुर में गोराडीह के 65 साल किसान मोहम्मद कमरुज्जमा ने कुर्बानी न देकर इंसानियत का रास्ता अपनाया है,

जहां पूरे देश के मुस्लिम बकरीद से पहले ही बकरे को खरीदकर उसे सज़ा रहे हैं वहीं इस मुस्लिम ने जो किया है उसे जानकर हर कोई हैरान है.

ज्ञात हो मोहम्मद ने इस बकरीद पर पीड़ितों की मदद की है. मोहम्मद का कहना है कि ये त्योहार तो आते ही रहेंगे लेकिन इस वक़्त इंसानियत को बचाने के नेक काम ज्यादा जरूरी है

 दरअसल मोहम्मद ने भी बकरे की खरीद के लिए 60 हजार रुपए बचा कर रखे थे। लेकिन उन्होंने जब कोसी से जुड़े इलाकों में बाढ़ के बाद मची तबाही को देखा तो इस 60 हजार को बाढ़ पीड़ितों को मदद करने के लिए देना ज्यादा मुनासिब समझा.

source

बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए ही वह इस साल वह वाजिब के अलावा मुसतहब के तौर पर करने वाली बकरे की कुर्बानी नहीं देने का फैसला लिया है. इस साल वे उस पैसे से बाढ़ पीड़ितों की मदद कर रहे हैं.

वाकई ये एक मिसाल है जिससे मुसलमानों की ही नहीं बल्कि हिन्दुओं को भी प्रेरणा लेनी चाहिए. यदि हर भारतीय ऐसा सोचे तो देश बहुत जल्द सुधर सकता है.

Source